महादेवी वर्मा 

हिंदी साहित्य में महादेवी वर्मा की कृतियों का विशेष स्थान है। आगे की स्लाइड्स में जानें महादेवी वर्मा के जीवन परिचय, रचनाएँ व भाषा शैली के बारे में। 

1907-1987 ईस्वी

जन्म स्थान - उत्तर प्रदेश के फर्रुखाबाद जिले में। माता - श्रीमती हेम रानी देवी पिता - श्री गोविंद सहाय वर्मा पति - डॉक्टर स्वरूप नारायण मिश्रा उच्च शिक्षा - प्रयाग

मुख्य रचनाएं

भाषा

निहार, रश्मि, नीरजा, सान्ध्यगीत, दीपशिखा, अतीत के चलचित्र, क्षणदा , अबला, स्मृति की रेखाएं, श्रृंखला की कड़ियां, संकल्पिता, मेरा-परिवार, चिंतन के क्षण

खड़ी बोली

उपलब्धियां

महिला विद्यापीठ की प्राचार्य, पदम भूषण पुरस्कार,भारत भारती पुरस्कार, सेकसरिया तथा मंगला प्रसाद पुरस्कार, तथा भारतीय ज्ञानपीठ पुरस्कार आदि।

महादेवी जी ने अपने गीतों में स्निग्ध और सरल, तत्सम प्रधान खड़ी बोली का प्रयोग किया है।

भाषा शैली

Thick Brush Stroke

पूरा जीवन परिचय पढ़ने के लिए नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें